Home दिल्ली ख़ास कला/साहित्य / संस्कृति 21 गन सेल्यूट इंटरनेशनल विंटेज कार रैली और कॉनकाॅर्स में शान बढ़ाएंगीं 150 से अधिक दुर्लभ विटेंज कारें

21 गन सेल्यूट इंटरनेशनल विंटेज कार रैली और कॉनकाॅर्स में शान बढ़ाएंगीं 150 से अधिक दुर्लभ विटेंज कारें

5 second read
0
2
65
  • काॅनकाॅर्स के बाद बेहद खास 4000 किलोमीटर लंबा शाही सफर-द इंक्रेडिबल इंडिया रैली की शुरूआत होगी, जो कि भारतीय विरासत और विश्व की बेस्ट आॅटोमोबाइल्स का उत्सव जारी रखेगी।
  • 1938 रोल्स-रॉयस 25/30, मासरेटी 3500 जीटी विग्नेल सिडर, 1939 ब्यूक रोडमास्टर कनर्वेटेबल, 1938 लैंसिया एस्टुरा सीरीज 4, 1949 ब्यूक रोडमास्टर, 1930 बीएमडब्ल्यू 3/15 डीए2 “ कैब्रियोलेट”, 1938 डेलाहे 135एम, 1936 रोल्स रॉयस 25/30 गुर्ने नटिंग कूपे, 1959 जगुआर एक्सके 150एस, 1936 रोल्स रॉयस 25/30, 1951 बेंटले एमके 6 फ्रीस्टोन एंड वेब, 1966 फोर्ड मस्टैंग, 1930 कैडिलैक वी-16 रोडस्टर, और 1959 अल्फा 2000 और कई अन्य शामिल हैं।

नई दिल्ली : देश में मोटरिंग को लेकर बढ़ रहे जोश और उत्साह का जश्न मनाते हुए, 21 गन सैल्यूट हेरिटेज कल्चरल ट्रस्ट कारों के, खासकर विंटेज कारों के शौकीनों को 21 गन सेल्यूट इंटरनेशनल विंटेज कार रैली और कॉनकाॅर्स डी’एलीगेंस के 9वें एडीशन के साथ एक नए युग में वापस ले जाने के लिए तैयार है। इस दौरान शानदार और समृद्ध ऑटोमोटिव विरासत को प्रदर्शित किया जाएगा और ये आयोजन आॅटोमोटिव इंडस्ट्री के स्वर्ण युग को एक सच्चा सम्मान है।

15 फरवरी (शनिवार) को कार्यक्रम के पहले दिन ऐतिहासिक इंडिया गेट से 150 से अधिक विंटेज विंटेज कार रैली निकाली जाएगी। विंटेज/ क्लासिक कारें लुटियंस दिल्ली से परेड करेंगी और फिर करमा लेकलैंड्स गोल्फ कोर्स पर अविस्मरणीय प्रदर्शन के लिए कई अन्य मोटरिंग ग्रेट्स के साथ एकत्र होंगी। 16 फरवरी को विश्व स्तर पर पाए जाने वाले दुर्लभतम कलेक्शनों में से चुन चुन कर लाई गई पुरानी कारों के भव्य प्रदर्शन के साथ-साथ शानदार कल्चरल समारोह-एक असाधारण वीकएंड का अनुभव प्रदान करेगी।

21 गन सैल्यूट इंटरनेशनल विंटेज कार रैली और कॉन्काॅर्स डी’एलीगेंस एशिया के सबसे बेहतरीन और चर्चित ऑटोमोबाइल आयोजनों में से एक बन गया है। मोटरिंग के उत्साह को बेहद दुर्लभ सैल्यूट करते हुए इस शो में कई शानदार कारों को डिस्प्ले किया जाएगा, जिनमें भारतीय विरासत के साथ दुनिया की सबसे अविश्वसनीय और दुर्लभ कारें शामिल हैं।

न केवल यह हेरिटेज मोटरिंग इस फरवरी में दुनिया भर से दुर्लभ विंटेज और क्लासिक कारों के एक शानदार प्रदर्शन को एक साथ लाएगा, बल्कि इस विंटेज कार रैली इसे अगले स्तरपर लेकर जाएगी और ये भारत में हेरिटेज मोटरिंग के इतिहास में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि होगी। इस ऐतिहासिक 23-दिवसीय शाही अभियान-इंक्रेडिबल इंडिया रैली का आयोजन भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय के सहयोग से 21 गन सेल्यूट हेरिटेज एंड कल्चरल ट्रस्ट द्वारा किया जा रहा है। हेरिटेज मोटरिंग और भारतीय संस्कृति का यह भव्य उत्सव 17 फरवरी 2020 से शुरू होगा और ये विंटेज कार रैली हरियाणा, उत्तर प्रदेश, राजस्थान और गुजरात के ऐतिहासिक और दर्शनीय शहरों से होकर गुजरेगर। रैली के आखिरी दिन इसका समापन 10 मार्च 2020 को झीलों के शहर, शाही और भव्य शहर उदयपुर में होगा, जहां प्रतिभागी रंगों के त्योहार होली और शहर के शाही अंदाज का एक अलग अनुभव प्राप्त करेंगे।

इस मौके पर श्री मदन मोहन, चेयरमैन एवं मैनेजिंग ट्रस्टी, 21 गन सैल्यूट हेरीटेज एंड कल्चरल ट्रस्ट ने कहा कि “भारतीय संस्कृति और हेरीटेज मोटरिंग हमारे कॉनकोर्स के दो मजबूत स्तंभों को जोड़ रहे हैं। दोनों पहलुओं पर प्रकाश
डाला गया कि 21 गन सेल्यूट कॉनकॉर्स शो विशेष महत्व का है और प्रतिभागियों और मेहमानों, दोनों को आकर्षित करता है। पिछले 8 वर्षों से, यह आयोजन सभी पहलुओं में एक शानदार शो के तौर पर विकसित हुआ है जो पर्यटकों और दुनिया भर के मोटरिंग शौकीनों को अपनी तरफ आकर्षित करता है।”

इस मौके पर एक और घोषणा करते हुए श्री मदन मोहन ने आगे कहा कि “सिर्फ यही नहीं, जीवन से कुछ बड़ा करने का अथक उत्साह, हमें 2019 में सबसे प्रभावशाली और शानदार शाही अभियान का आकलन करने और एक विराम लेने का अवसर मिला। इस दौरान ही ये नया काॅन्सेप्ट सामने आया, जिसे अब साकार किया जा रहा है। इस नए काॅन्सेप्ट को ही इंक्रेडिबल इंडिया रैली का नाम दिया गया है जो कि 4000 किलोमीटर लंबी रैली पूरी तरह से हमारे देश के सबसे जीवंत और शाही राज्यों – हरियाणा, उत्तर प्रदेश, गुजरात और राजस्थान की सांस्कृतिक विविधता और शाही विरासत को बढ़ावा देने पर केंद्रित होगी। यह शाही अभियान भारत की भव्यता का अनुभव करने के लिए वैश्विक पर्यटकों में रुचि पैदा करने के लिए एक जबरदस्त कदम होगा।”

मदन मोहन, जी बीते कई सालों से इस आयोजन को इस रीजन के सबसे बड़े हेरिटेज मोटरिंग शो के तौर पर प्रोत्साहित कर रहे हैं और वे मोटरिंग टूरिज्म डेस्टीनेशन के रूप में, भारत को आगे बढ़ा रहे है। उनका मानना है कि इस संबंध में भी भारत के पास दुनिया को दिखाने के लिए बहुत कुछ है और 21 गन सैल्यूट कॉनकोर्स अपनी विरासत के इस पहलू का संदेश पूरी दुनिया तक पहुंचा रहा है।

21 गन सैल्यूट कॉनकॉर्स डी’एलीगेंस एशियन मोटरिंग इवेंट कैलेंडर और एशिया में एकमात्र कॉनकॉर डी’एलीगेंस पर सबसे भव्य और क्लासिएस्ट आयोजनों में से एक है!

 

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In कला/साहित्य / संस्कृति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

“ओटीटी पर मलयालम इंडस्ट्री की पहुंच बहुत बड़ी है। मैं उत्साहित और बहुत आभारी महसूस कर रही हूं”,अदिति राव हैदरी ने अमेज़ॅन प्राइम वीडियो पर रिलीज़ हो चुकी अपनी फिल्म ‘सूफ़ीयम सुजातयुम’ के बारे में किया साझा!

‘सूफ़ीयम सुजातयुम’ को 3 जुलाई, 2020 में अमेज़ॅन प्राइम वीडियो पर रिलीज़ कर दिय…