Home दिल्ली ख़ास कला/साहित्य / संस्कृति द ग़ज़ल सिम्फ़नी : थेलेस्सेमिया के शिकार बच्चो‌ं की मदद के लिए पद्मश्री विजेता ग़ज़ल गायक पंकज उधास द्वारा ऑनलाइन कंसर्ट का आयोजन

द ग़ज़ल सिम्फ़नी : थेलेस्सेमिया के शिकार बच्चो‌ं की मदद के लिए पद्मश्री विजेता ग़ज़ल गायक पंकज उधास द्वारा ऑनलाइन कंसर्ट का आयोजन

18 second read
0
1
94

21 नवंबर को रात 8.30 बजे शुरू होनेवाले इस ऑनलाइन कंसर्ट को दुनिया भर के फ़ैन मुफ़्त में देख सकेंगे।

PATUT ने संगीत प्रेमियों से उदार मन से इस नेक मक़सद में अपना योगदान देने की याचना की।

कोरोना संक्रमण के इस चुनौतीपूर्ण काल में वर्चुअल तौर पर संवाद करना कोरोना काल की एक नयी जरूरत और एक नयी असलियत बनकर सामने आयी है। ऐसे में थेलेस्सेमिया का शिकार बच्चों‌ के इलाज के लिए समर्पित पैरेंट्स असोसिएशन थेलेस्सेमिक यूनिट ट्रस्ट (PATUT) ने इस बार अपने वार्षिक फ़ंडरेज़र का ऑनलाइन आयोजन‌ करने‌ का फ़ैसला किया है। उल्लेखनीय है कि इस आयोजन के दौरान जाने-माने‌ ग़ज़ल गायक पंकज उधास एक खास म्यूज़िकल नाइट के ज़रिये अपने‌ फ़ैन्स और ग़ज़ल प्रेमियों का दिलकश अंदाज़ में मनोरंजन करेंगे। दीपक पंडित द्वारा संगीतबद्ध की गयी इस ग़ज़ल सिम्फ़नी का आयोजन शनिवार, 21 नवंबर, 2020 को शाम 8.30 बजे से किया गया है। इस ख़ास कार्यक्रम के आयोजनकर्ता हैं परफ़ेक्ट हार्मनी प्रोडक्शन्स और हंगामा।

ग़ौरतलब है कि वर्चुअली आयोजित किये जा रहे इस कार्यक्रम से पहले इसका आयोजन 2018 में मुम्बई के षणमुखानंद हॉल में किया गया था, जिसमें पहली दफ़ा पंकज उधास ने सिम्फ़नी ऑर्केस्ट्रा के साथ परफॉर्म किया था। इस रिकॉर्डेड कंसर्ट में उनके‌ सभी हिट गानों को उनके ही निराले अंदाज़ में भव्य सिम्फ़नी के‌ साथ अब ऑनलाइन पेश किया जायेगा। ऑनलाइन कंसर्ट के हमारे डिजिटल प्लेटफार्म पार्टनर हैं हंगामा। उल्लेखनीय ‌है कि इस कार्यक्रम से हासिल होनेवाली दान राशि थेलेस्सेमिया के शिकार बच्चों के इलाज के ख़र्च में इस्तेमाल की जायेगी। ग़ौरतलब है कि इस कार्यक्रम को देखने के लिए पैसे ख़र्च नहीं करने होंगे। इस आयोजन के लिए हमने  Ketto के ज़रिए विशेष साझेदारी की है जो दर्शकों द्वारा दान की जानेवाली राशि हासिल करने में हमारी मदद करेगी।

ग़ौरतलब है कि पंकज उधास हमेशा से ही सामाजिक उत्थान के कार्यों में विशेष रूचि लेते रहे हैं। मखमली आवाज़ के धनी पंकज उधास पिछले तीन दशकों से लगातार  सामाजिक कार्यों में अपना अमूल्य योगदान देते आ रहे हैं। वे 1987 से  पैरेंट्स एसोसिएशन थेलेस्सेमिक यूनिट ट्रस्ट (PATUT) के अध्यक्ष के तौर पर चैरिटी और सामाजिक कार्यों में सक्रिय रूप से भाग लेते आ रहे हैं। PATUT की स्थापना 22 फ़रवरी, 1986 को मुम्बई के सेंट जॉर्ज अस्पताल में की गयी थी।

थेलेस्सेमिया जेनेटिक डिस्ऑर्डर का नतीजा होता है, जो शरीर के सबसे अहम हिस्से यानी रक्त को बुरी तरह से प्रभावित करता है। अपने शरीर की कोशिकाओं में असामान्य किस्म के थेलेस्समिया जीन्स वाले अभिभावकों से यह बच्चों में प्रवाहित होता है। अगर कोई बच्चा थेलेस्सेमिया मेजर के साथ पैदा होता है तो ज़िंदा रखने‌ के लिए उसे हर 20 दिनों में रक्त चढ़ाये जाने‌ की ज़रूरत पड़ती है। उल्लेखनीय है कि हर साल भारत में 10,000 बच्चे थेलेस्सेमिया मेजर के साथ पैदा होते हैं, जो कि दुनिया भर में इस बीमारी का शिकार होनेवाले बच्चों का 10% है। इतना ही नहीं दुनिया के भर में बीमारी के आठ करियर में से एक करियर भारत में पाया जाता है। आमतौर पर कुल आबादी का 3.5% लोग थेलेस्सेमिया मेजर अथवा माइनर के कैरियर होते हैं।

PATUT ने इस बीमारी से संबंधित जागरुकता फ़ैलाने, इसकी जांच, काउंसिलिंग और इससे बचाव के लिए ठाणे, नाशिक और नारायणगांव में विशेष केंद्रों की स्थापना की है। PATUT ने स्कूलों, आश्रमों, कॉलेजों, पुलिस संस्थानों,‌ सामुदायिक केंद्रों और अपने ख़ुद के केंद्रा में आयोजित किये गये रक्तदान केंद्रों के माध्यमों से अब तक 25000 से अधिक बल्ड सैम्पल इकट्ठ कर लिये हैं। संस्था महाराष्ट्र 2022 तक थेलेस्सेमिया को पूरा तरह से ख़त्म करने की दिशा में काम कर रही‌ है। पंकज उधास वार्षिक तौर पर इस म्यूज़िक कंसर्ट के आयोजन में अहम भूमिका निभाते रहे हैं। PATUT ने सदाबहार ग़ज़ल गायक के वर्चुअल संगीतमय कंसर्ट के आयोजन के ज़रिये इस साल फ़ंड इकट्ठा करने की दिशा में क़दम उठाया है।

कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण काल में लाइव कंसर्ट का आयोजन किया जाना मुमकिन नहीं क्योंकि ऐसा करने का मतलब है सीधे तौर पर सामान्य लोगों और संगीत प्रेमियों की ज़िंदगियों को ख़तरे में डालना। ऐसे में PATUT ने‌ पहले से ही रिकॉर्ड किये गये एक कंसर्ट को ग़ज़लों के उस्ताद के फ़ैन्स के लिए इस बार वर्चुअल अंदाज़ में पेश किये जाने‌ का फ़ैसला किया। PATUT मरीज़ों की हर मुमकिन मदद करने की कोशिश कर रहा है। चूंकि कोरोना काल में मरीज़ों की नियमित आय बुरी तरह से प्रभावित हुई है, यही वजह है कि PATUT लोगों से दान के ज़रिये ऐसे मरीज़ों की अतिरिक्त ‌मदद करने की अपील कर रहा है।

पिछले पांच सालों से PATUT 5 से 10 सालों के बच्चों के लिए बोन मैरो ट्रांसप्लांट्स (BMT) पर‌ भी अपना ध्यान केंद्रित कर रहा है,‌ जो थेलेस्सेमिया मेजर व इससे संबंधित अन्य बीमारियों के इलाज का एकमात्र उपाय है। BMT की प्रक्रिया से गुज़रने के बाद एक बच्चा सामान्य ज़िंदगी जीने में सक्षम बन जाता है और ऐसे में उसे और रक्त चढ़ाये जाने की ज़रूरत नहीं रह जाती है। PATUT ने‌ अभी‌ तक 250 से‌ अधिक BMTs के‌ लिए आर्थिक सहायता पहुंचाई है। गरीब थेलेस्सेमिया मेजर‌ व संबंधित बीमारियो से पीड़ित लोगों की‌ BMT कराने के लिए PATUT ने‌ मुम्बई, बैंगलोर, पुणे, नाशिक और अहमदाबाद के‌ प्रमुख अस्पतालों के साथ साझेदारी की है। किसी भी  अस्पताल में‌ BMT की प्रकिया के‌ लिए 18 से 20 लाख रुपये आती है, जबकि PATUT ने महज़ 9 से‌ 10 लाख रुपये में इलाज कराने के लिए तमाम अस्पतालों से साझेदारी‌ कर रखी है। यह लागत किसी भी निजी अस्पताल में कराये जानेवाली BMT की प्रकिया की लागत से 50% तक कम है।

पंकज उधास को भारत में ग़ज़ल गायिकी का महत्वपूर्ण स्तंभ माना जाता है, जिन्हें इस तरह के संगीत में एक अलहदा किस्म का स्टाइल लाने का श्रेय दिया जाता है। अब तक उन्होंने ढेरों एलबम और गाने रिकॉर्ड किये हैं और उन्हें भारत का महानतम ग़ज़ल गायक माना जाता है। नतीजतन उनकी प्रतिभा को सम्मानित करते हुए उन्हें भारत सरकार द्वारा पद्मश्री सम्मान से नवाज़ा जा चुका है।

मरीज़ों के प्रति आपकी उदारता और सहायता PATUT के लिए बेहद मायने रखती है. इसे हमें अपने कार्य को जारी रखने और मरीज़ों को सुरक्षित व स्वस्थ रखने में गहरी मदद मिलती है। PATUT परिवार थेलेस्सेमिया से जुड़े चैरिटी के मक़सद से आयोजित किये जा रहे रहे कार्यक्रम के लिए आप सभी से अच्छे प्रतिसाद की उम्मीद करता है। मदद के लिए आप भी आगे आयें ताक़ि थेलेस्सेमिया से पीड़ित बच्चों के अस्पताल में रहने की अवधि को कम किया जा सके और वहां उनके रहने-सहन को ज़्यादा आनंदमयी बना सकें। अपनी दानी राशि सीधे KETTO को भेजें। पंकज उधास कहते हैं कि डोनेशन के ज़रिये के ज़रिए लोगों की ज़िंदगी में बदलाव लाएं।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In कला/साहित्य / संस्कृति

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

वरिष्ट पत्रकार विनोद तकिया वाला को स्टार पर्सनेलिटीज ऑफ इंडिया अवार्डस 2020 से सम्मानित हुए

नई दिल्ली : वरिष्ट पत्रकार विनोद तकिया वाला कोआलंबन चेरीटेबल ट्रस्ट की तरफ से राजधानी दिल्…