Home पर्यटन सलतनत ऑफ ओमान के लिए भारत पर्यटन का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत बाजार बना

सलतनत ऑफ ओमान के लिए भारत पर्यटन का दूसरा सबसे बड़ा स्रोत बाजार बना

6 second read
0
1
26

पर्यटकों के आगमन में 12.37ः की वृद्धि हुई।

जनवरी से दिसंबर 2018 के दौरान 357,147 भारतीयों ने देश का दौरा किया।

नई दिल्ली : द सलतनत ऑफ ओमान ने भारतीय पर्यटकों के आगमन में 12.3% वृद्धि दर्ज की है और जनवरी से दिसंबर 2018 के दौरान 357,147 भारतीय ओमान आए जबकि 2017 में 317,844 लोग आए थे। इससे भारत ओमान के लिए दूसरा सबसे बड़ा स्रोत बाजार बन गया। यह पिछले पांच वर्षों के दौरान 39.% की उल्लेखनीय वृद्धि है। ओमान के नेशनल सेंटर फॉर स्टैटिस्टिक्स एंड इंफॉर्मशन (एनसीएसआई) से मिले आंकड़ों से यह जानकारी मिली है। 2017 के 1,369,199 अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों के मुकाबले 2018 में 1,484,063 अंतरराष्ट्रीय पर्यटक आए और यह अच्छी-खासी वृद्धि है और 8.3%  से ज्यादा है। इस संख्या में दूसरे गल्फ कोऑपरेशन कौंसिल (जीएससी) देशों से आने वाले क्षेत्रीय पर्यटक शामिल नहीं है। इन लोगों को वीजा की आवश्कता नहीं होती है।

बेजोड़ वृद्धि के बारे में बताते हुए ओमान के पर्यटन मंत्रालय में भारतीय प्रतिनिधि सुश्री लुबैना शीराजी ने कहा, देश के पर्यटन मंत्रालय के लिए 2018 का साल जोरदार रहा। विदेश यात्रा और नई जगहों को अनुभव करना चाहने वाले पर्यटकों की अच्छी तादाद के मद्देनजर ओमान के लिए भारत एक बड़े और विशाल बाजार का प्रतिनिधित्व करता है। भारत से ओमान आने वाले पर्यटकों की संख्या में हम साल दर साल वृद्धि देख रहे हैं और इसमें लगातार हो रही वृद्धि से बेहद खुश हैं। हमारे लिए भारत एक महत्वपूर्ण बाजार रहा है और हमें यह कहते हुए खुशी हो रही है यह सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले देशों में से एक रहा है और जीसीसी के बाद दूसरे सर्वोच्च सोर्स बाजार की स्थिति में पहुंच गया है। इस सफलता में कई तरह की पहल का योगदान है। इनमें इलेक्ट्रॉनिक वीजा, भारत के भिन्न शहरों से डायरेक्ट फ्लाइट की कनेक्टिविटी और मस्कट अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर नए यात्री टर्मिनल की शुरुआत आदि शामिल है।”

हर साल यात्रियों की बढ़ती संख्या से पर्टयन मंत्रालय (एमओटी) दावारा विकसित ओमान टूरिज्म स्ट्रैटजी को 2040 तक कम से कम 11.7 मिलियन अंतरराष्ट्रीय और देसी पर्यटकों के आने की उम्मीद है और यह इस क्षेत्र में एक समय के दौरान ओएमआर 20 बिलियन के करीब देसी और अंतरराष्ट्रीय निवेश से संभव हुआ है।

सुश्री शीराजी ने आगे कहा, “2040 की अपनी रणनीति के भाग के रूप में पर्यटन मंत्रालय ओमान में कई जगहों का विकास करने का काम शुरू कर रहा है और इस तरह यहां आने वालों को विस्तृत किस्म के अनुभवों की पेशकश की जा सकेगी। इसका मकसद विस्तारित दौरों को प्रेरित करना है जिससे देश की संस्कृति और प्राकृतिक स्थलों से लोगों का जुड़ाव बढ़े।”


आने वाले पर्यटकों की संख्या में अच्छी-खासी वृद्धि ओमान सरकार द्वारा अपनाई गई आर्थिक विविधीकरण की रणनीति का नतीजा है। गए साल अपने किस्म के अनूठे मस्कट इंटरनेशनल एयरपोर्ट की शुरुआत से देश को एक शानदार गेटवे मिला जो बेजोड़ सेवा की पेशकश करता है और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ नया हवाई अड्डा मिला। देश घूमने के लिए ज्यादा पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए ओमान ने 5 ओमानी रियाल (ओएमआर) यानी 930 रुपए के करीब में में एक नए अल्प अवधि के टूरिस्ट वीजा की घोषणा की जो 10 दिन के लिए है। अमेरिका, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, जापान, शेनजेन राज्य का वैध वीजा रखने वाले भारतीय ओमान का वीजा ई-वीजा प्रक्रिया से हासिल कर सकते हैं और इसके लिए उन्हें सिर्फ https://evisa.rop.gov.om पर लग इन करना है और 5 ओएमआर का भुगतान ऑनलाइन करना है जबकि दूसरे भारतीय पर्यटक अपने टुअर ऑपरेटर के जरिए 5 ओएमआर और प्रोसेसिंग फीस का भुगतान करके स्पांसर्ड वीजा प्राप्त कर सकते हैं। यह ओमान के लिए मौजूदा ई-वीजा के अलावा है जो एक महीने की वैधता के साथ 20 ओएमआर में उपलब्ध है। सुधारों में पर्यटक वीजा को तीन हिस्से – 10 दिन, एक महीना और एक साल में बांटना शामिल है।

इसके अलावा, पर्यटन मंत्रालय मीटिंग्स, इंसेंटिव, कांफ्रेंस और एक्जीबिशंस (एमआईसीई) टूरिज्म वाले घटक को निखारने और ओमान को बिजनेस टूरिज्म वाले वर्ग के लिए प्रथम श्रेणी का डेस्टिनेशन बनाने में सहायता करन के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। मस्कट में ओमान कनवेंशन एंड एक्जीबिशन सेंटर (ओसीईसी) की शुरुआत के बाद ओमान ने इस क्षेत्र में अच्छी-खासी वृद्धि देखी है। बड़े आयोजनों की मेजबानी में यह अंतरराष्ट्रीय और स्थानीय संगठनों की सहायता करता है। ओसीईसी में अति आधुनिक थिएटर, कांफ्रेंस रूम आदि हैं तथा आखिरकार यहां चार होटल होंगे जिनमें 1000 कमरे होंगे। इसके साथ यहां एक्जीबिशन हॉल में होंगे जो एक बार में दसियों हजार लोगों के लिए उपयुक्त होंगे।

ओमान न सिर्फ एमआईसीई यात्रा में वृद्धि देख रहा है बल्कि यह शादी के लिए भी यह कइयों के लिए एक पसंदीदा जगह है। मस्कट एक बढ़िया शहर है जहां आधुनिक संरचना है तथा यह शादी के लिए एकदम उपयुक्त सेटअप मुहैया कराता है। इनमें कई विश्व स्तर के शहरी होटल शामिल हैं। भारत से इसकी दूरी तीन घंटे से कम है और कई शहरों से अच्छी कनेक्टिविटी है। इसलिए यह भारतीयों के लिए भी शादी की एक पंसदीदा जगह हो सकती है।

ओमान की सरकारी विमान सेवा ओमान एयर भारत के कई शहरों को मस्कट से सीधी उड़ान के जरिए जोड़ती है। इन शहरों में दिल्ली, मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, चेन्नई, लखनऊ, कोझिकोड, कोच्चि, गोवा, जयपुर और थिरुवनंतपुरम शामिल है। भारत से एयर इंडिया के अलावा जेट एयरवेज, स्पाइस जेट और इंडिगो की उड़ान भिन्न शहरों को मस्कट से जोड़ती हैं।

ओमान अरब के अनुभव की पेशकश करता है और इसके साथ अच्छी मेजबानी तो है ही सुंदर दृश्य, समृद्ध संस्कृति, ऐतिहासिक स्मारक और सुंदर समुद्र तट भी है। देश में आधुनिक संरचना है और इसके साथ पुराने की खासियतें तथा आधुनिकता का आराम दोनों उपलब्ध है। देश के चौंकाने वाले लैंडस्केप हर तरह की छुट्टी मनाने वालों को प्रभावित करते हैं। इनमें सामूहिक रूप से संयुक्त गतिविधि चलाने वाले परिवार, हनीमून मनाने आए लोग या फिर जीवन भर का एडवेंचर तलाशने आया मित्रों का समूह – कोई भी हो सकता है।

Load More Related Articles
Load More By admin
Load More In पर्यटन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

‘गाना म्युजिक ऐप’ बना 100 मिलियन यूजर्स द्वारा प्रयोग किया जाने वाला पहला पसंदीदा ऐप

नई दिल्ली : भारत में सबसे बड़ा म्युज़िक स्ट्रीमिंग ऐप गाना, मार्च 2019 में मासिक 10 करोड़ एक्…